माला फेरत जुग गया, फिरा न मन का फेर। कर का मनका डारि दे, मन का मनका फेर।।

By exam_gyan at 17 days ago • 0 collector • 4 pageviews

रुपक

अनुप्रास

यमक

उल्लेख

Requires Login

Log in
Information Bar
Loading...